July 25, 2021

vedicexpress

vedicexpress

टीकाकरण नीति की समीक्षा बैठक में हंगामा

संसद की लोक लेखा समिति में बुधवार को देश में कोरोना महामारी पर चर्चा को लेकर सत्ता और विपक्ष के सदस्यों के बीच रार हो गई। सत्ताधारी एनडीए के सांसदों के विरोध जताने पर दोनों पक्षों के बीच हुए जबरदस्त मतभेद के दौरान समिति के चेयरमैन और कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने इस्तीफे का प्रस्ताव दे दिया।अधीर रंजन चौधरी ने कोरोना महामारी और इससे जुड़े मुद्दे पर चर्चा शुरू की, भाजपा और जदयू के सदस्यों ने इसका विरोध कर दिया। सूत्रों की जानकारी के अनुसार चौधरी और भाजपा के जगदंबिका पाल व जदयू के राजीव रंजन सिंह के बीच इस मुद्दे पर जबरदस्त बहस हो गई। एनडीए सदस्यों ने इस मुद्दे पर चेयरमैन के स्वत: संज्ञान लेकर चर्चा शुरू करने पर आपत्ति उठाई।

फाइल फोटो

इससे पहले भी कई मौकों पर सीएजी की ऑडिट की रिपोर्ट से पहले लोक लेखा समिति में स्वत: संज्ञान लेकर 2जी स्पेक्ट्रम या सड़क निर्माण के मुद्दे पर चर्चा की गई है। अधीर रंजन की बातों पर एनडीए सांसदों ने कोई ध्यान नहीं दिया। इसी बात को आगे बढ़ाते हुए अधीर रंजन ने कहा कि यदि समिति ने इस मुद्दे पर रोका तो वह चेयरमैन पद छोड़ देंगे। उन्होंने इस मामले को अपेक्षित तीसरी लहर की प्रतिक्रियाओं और तैयारियों के लिए सुनने का भी आग्रह किया। लेकिन एनडीए सांसदों का कहना था कि संसद में गृह मामलों की स्थायी समिति पहले ही इस मुद्दे पर चर्चा कर चुकी है