September 26, 2021

vedicexpress

vedicexpress

मक्का फसल में कीट व्याधि के उपचार की सलाह

संयुक्त संचालक कृषि ने कृषकों को मक्का फसल में कीट व्याधि निदान के लिए किसानों को महत्वपूर्ण सलाह दी है। उन्होंने मक्का उत्पादक किसानों को सलाह देते हुए बताया है कि मक्का फसल में फॉल आर्मीवर्म कीट का प्रकोप देखा जा रहा है। कृषक मक्का की फसल का अवलोकन करें यदि पत्तियों पर कटे-फटे गोल से आयताकार आकार के छिद्र बने दिखाई देते है तो नियंत्रण हेतु 5 प्रतिशत नीम बीज कर्नल सत या एजाडिरेक्टीन 1500 पी.पी.एम. का 5 मि.ली. प्रति लीटर पानी में घोल बनाकर छिडकाव करें। जिन खेतों मे संक्रमण 10 प्रतिशत से अधिक होता है तो बडे लार्वा के लिए अनुशांसित रासायनिक कीटनाशकों का छिडकाव करना चाहिए। जिसमें स्पाईनटोरम की 11.7 प्रतिशत एस. सी. 0.5 मि.ली. या क्लोरेन्ट्रानिलीप्रोएल 18.5 एस. सी. 0.4 मि.ली. या थियोमेथोक्जाम 12.6 प्रतिशत लेम्बडा साइहेलोथ्रीन 9.5 प्रतिशत जेड.सी. का 0.25 मि.ली. या इमामेक्टिन बेन्जोएट 5 प्रतिशत एस. जी. का 0.6 ग्राम प्रति लीटर पानी में घोल बनाकर छिडकाव करें।