October 23, 2021

vedicexpress

vedicexpress

भोपाल की करीब 70% खराब सड़कों से लोगों को राहत नहीं मिल पा रही है।

राजधानी भोपाल की करीब 70% खराब सड़कों से लोगों को राहत नहीं मिल पा रही है। बारिश थमने पर जहां धूल के गुबार उड़ते हैं तो बारिश होने पर गड्‌ढे उभर आते हैं और कीचड़ फैल जाता है। शनिवार और रविवार सुबह हुई बारिश के कारण सड़कों ने मुसीबत बढ़ा दी है। कई इलाकों में सड़कें तालाब बन गई हैं। इधर, अफसर 1 अक्टूबर से सड़कों की रिपेयर कराने की बात कह रहे हैं, लेकिन मानसून के एक्टिव होने से नहीं लगता कि राजधानी के लोगों को जल्द राहत मिलेगी।
बता दें कि नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने 1 अक्टूबर से सारी सड़कों की रिपेयरिंग करने को कहा है। कमिश्नर कवींद्र कियावत ने भी एजेंसियों को निर्देश दिए हैं कि सड़कों को रिपेयर करें, लेकिन एजेंसियों का तर्क है कि बारिश में सड़कों पर डामरीकरण नहीं करा सकते। इसलिए मानसून की विदाई का इंतजार कर रहे हैं। मौसम विभाग ने अगले दो सप्ताह तक बारिश होने की संभावना जताई है। ऐसे में खराब सड़कों की मरम्मत भी नहीं हो सकेगी।
टेंडर कॉल किए

सड़कों की रिपेयरिंग के लिए टेंडर कॉल किए गए हैं। कुछ प्रोसेस में है। जल्द ही रिपेयरिंग की जाएगी।